होली पर भाषण हिंदी में 2022 - Holi Festival Speech in Hindi

Speech on Holi in Hindi: नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका आज के इस "होली भाषण" में. रंगों का त्योहार होली हमारी भारतीय संस्कृति में हिन्दुओं का प्रमुख त्योहार है. जो हमारी सांस्कृतिक और धार्मिक परंपराओं से जुड़ा हुआ हुआ है. यह भारत का सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण त्योहार है. जो रंगों को हमारी खुशियाँ बनाता है. इस त्योहार को भारत विभिन्न क्षेत्रों में उल्लास के साथ मनाया जाता है. यह एक प्रकार से खुशियाँ बांटने वाला त्योहार है.

लोग इस दिन एक दूसरे को रंग लगाकर सबको बधाईयाँ देते है, आपस में गले लगते है तथा इस सुअवसर के मौके पर विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित करते है. ऐसे मौके पर यदि आपको होली पर भाषण देने का अवसर प्राप्त हो तो आप इसके बारे विभिन्न स्रोतों के माध्यम से होली पर भाषण (Speech) संबंधित तथ्यों को ढूंढते है. इसी को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको Best Holi Speech in Hindi होली पर भाषण 2022 उपलब्ध करवा रहे है जिसका उपयोग आप होली के उन तमाम कार्यक्रमों में कर सकते है.

होली पर भाषण हिंदी में 2022 - Holi Festival Speech in Hindi
Holi Festival Speech in Hindi


Holi Speech in Hindi | होली के त्योहार पर भाषण हिंदी में 2022

हमेशा मीठी रहे आपकी बोली 

खुशियों से भर जाए आपकी झोली

आप सबको मेरी तरह से

हैप्पी होली.

लाल गुलाबी रंग है झूम रहा संसार

सूरज की किरण खुशियों की बहार

चाँद की चांदनी अपनों का प्यार

शुभ हो आपको ये रंगों का त्यौहार.

Speech Introduction: आदरणीय मुख्य अतिथि, मेरे प्रिय मित्रों एवं यहाँ उपस्थित सभी छोटे बड़े गणों को सबसे पहले मेरा नमस्कार जैसे आप सब जानते ही है कि आज हमारे भारत का सबसे प्रसिद्ध और लोकप्रिय त्योहार होली है. जिसके चलते आपने मुझे यहाँ मंच पर अपने विचार प्रस्तुत करने लिए आमंत्रित किया उसके लिए आप सभी बहुत बहुत धन्यवाद और आप सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाएँ एवं बहुत बहुत बधाई हो.

Main Speech: हमारे भारत देश त्योहारों का देश है यहाँ हर साल में विभिन्न प्रकार के त्योहार मनाये जाते है जिनका मजा देश के कोने कोने में उत्साह के साथ लिया जाता है, उन्ही मे से होली हमारे देश का एक प्रमुख और महत्वपूर्ण त्योहार है. जो दीपावली के बाद दुसरा सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है. होली एक रंगों का त्योहार है जो हमें जीवन में रंगों का महत्व बताता यह बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है. जो हमें रंगों में अपनी खुशियाँ दिखाता है. होली हर साल फाल्गुन माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है जो मुख्य रूप से दो दिन का त्योहार होता है.

होली के पहले दिन पूर्णिमा को होलिका दहन किया जाता है तथा इसके दूसरे दिन रंगों का जश्न होता है. वैसे तो हर त्योहारों में जश्न अलग-अलग ढंग से मनाते है लेकिन होली का जश्न रंगों और फूलों की कहर बरसाते हुए मनाया जाता है. होली रंगों तथा हँसी-खुशी का निराला और अद्भुत त्योहार है इसका दूसरा दिन वास्तव में बहुत ही रंगीन होता जो हमें रंगों में तब्दील कर देता है. यह निराश लोगों को हर्षित कर उनके जीवन में सुख समृद्धि लाता. यह हमारी दुश्मनी को खत्म कर मित्रता का भाव जागृत करता है और दुश्मनी को हमेशा हमेशा के लिए खत्म कर देता है.

होली एक ऐसा पर्व है जिसका सबको बेसब्री से इंतजार रहता है. इसे मनाने के लिए लोग कई दिनों पहले ही तैयारियों में लग जाते है. होली के दिन सुबह सब अपने रिश्तेदारों और मित्रों को मिलने के लिए निकल जाते है. इस दिन लोग कई प्रकार के नए नए मावे मिठाइयाँ, गुलाब जामुन, गुलगुले आदि व्यंजन बनाकर सब एक दुसरे के घर खाने जाते है और रंगों के साथ खेलते हुए इन व्यंजनों को बड़े ही चाव से खाते है. बच्चें इस दिन पिचकारियों में रंग भरकर अपने दोस्तों और भाई बहनों पर फेंकते है सभी स्थान पर इस दिन सिर्फ रंगों का ही जश्न दिखाई देता है.

होली को रंगों का त्योहार कहा जाता है यह हिन्दुओं का सबसे पवित्र और प्रमुख त्योहार है. होली को यूँ ही नहीं मनाया जाता है इसके पीछे इतिहास कथाएँ जुड़ी है जिनका महत्व काफी प्राचीन है. कहा जाता है कि एक हिरण्यकश्यप नाम राक्षस हुआ करता उसका एक पुत्र था जिसका नाम प्रहलाद था. प्रहलाद भगवान विष्णु के सच्चे भक्त थे. हिरण्यकश्यप खुद को ही भगवान मानता था लोग इससे डरकर इसकी पूजा करते थे लेकिन प्रहलाद उनके पिता की पूजा नही करते थे उनके ने कई बार भगवान विष्णु की पूजा करने से उन्हें रोक वे नहीं रुके. हिरण्यकश्यप ने प्रहलाद को कई दंड दिए.

पर प्रहलाद को कुछ भी नहीं हुआ. फिर उनके पिता ने प्रहलाद को अपनी दैत्य बहन होलिका के सहारे अग्नि में जलाने का प्रयास किया जिसमें होलिका को आग में कभी न जलने का वर्दान प्राप्त था इसके बावजूद भी वह जलकर राख में बदल गई लेकिन प्रहलाद को कुछ भी नहीं हुआ क्योंकि उनकी रक्षा स्वयं परमात्मा कर रहे. उसी दिन से प्रहलाद और भगवान विष्णु के अपार भक्त और प्रभु की लीला को याद करने के लिए हर साल फाल्गुन माह की पूर्णिमा को होली मनाई जाती है. अंत में मैं आप सभी को एक बार फिर से होली की हार्दिक शुभकामनाएँ देना चाहूँगा और मैं अपनी वाणी को यह पर विराम देता हूँ.

हैपी होली आप सभी को होली हार्दिक एवं बधाई.


वेलकम स्पीच फॉर होली सेलिब्रेशन इन हिंदी - Welcome Speech for Holi Celebration in Hindi 2022

सबसे पहले आज की इस सभागार में यहाँ उपस्थित समस्त अतिथियों को मेरा नमस्कार, आप सभी को रंगों के त्योहार होली की हार्दिक शुभकामनाएँ एवं बहुत बहुत बधाई हो, मैं आज होली के इस कार्यक्रम में उपस्थित आप सभी का तहे दिल स्वागत एवं अभिनंदन करता हूँ. जैसा कि आपको पता ही होगा आज हम यहाँ क्यूँ एकत्रित हुए है. आज हमारे हिन्दू धर्म का सबसे बड़ा पर्व होली है जो प्रति वर्ष हिंदी महीनों के अनुसार फाल्गुन माह की पूर्णिमा को आता है इसी को मनाने के लिए आज हम यहाँ एकजुट होकर इसका हार्दिक स्वागत कर रहे है.

आज का दिन हमारे लिए बहुत ही बहुमूल्य है जिसे मनाना हमारी धार्मिक परंपरा है. यह दिन हमारी संस्कृति और सभ्यता से जुड़ा हुआ जो हमारी प्राचीन रीति रिवाजों का अभिन्न अंग है. इस दिन को लोग अक्सर रंगों का त्योहार या वसंत महोत्सव कहते है. हर साल की तरह इस साल भी आप सभी के सहयोग से होली के सुअवसर पर इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. आप सभी के सहयोग से आज का यह रंगों का जश्न और भी खास और उत्साहित बन गया है. इसलिए मैं आप सभी का तहे दिल शुक्रिया करना चाहूँगा.

होली का पहला काम होलिका दहन होता है इस दिन लोग वृक्ष की शाखा जमीन में गाढ़कर उसे जलाकर अपने बुराइयों को अग्नि में भश्म कर देते है. इसे होलिका दहन कहा जाता है. इसके बाद होली का अगला दिन धुरेंण्डी कहलाता है इस दिन लोग नाच, गान करते हुए रंगों का जश्न मनाते है और एक दूसरे के घर जाकर आपस में गले लगते है इस दिन गाने, बाजो के साथ होली नाचते हुए जुलूस निकाला जाता है जिसमें सारा समाज रंगों में रंगीन हो जाते है इसके बाद लोग दोपहर में नहाने का काम करते है और शाम के समय एक दूसरे को मिलने जाते है इस प्रकार इस दिन चारों तरफ उल्लास भरा ही माहौल रहता है.

भारत में यह त्योहार काफी प्रसिद्ध और विकसित है जो विदेशों में भी बड़े ही धूम धाम से मनाया जाता है. होली एक ऐसा पारस्परिक त्योहार है जो भारत के विभिन्न राज्यों में अलग अलग तौर तरीकों से मनाया जाता है. इस त्योहार में एक प्रकार से समानता और भिन्नता की छवि चुपी हुई है जो हमें होली के रूप में मौज मस्ती करने का संदेश देती है. यह सर्दी ऋतु को विधा बसंत ऋतु का आगमन करता है. इससे प्रकृति भी इस त्योहार से उड़े रंगों में खुशी महसूस करती है. यह त्योहार वास्तव में एक प्रकार से रंगों का जश्न है इसी के साथ मैं अपनी वाणी पर विराम देता हूँ.

आशा करता हूँ की आप इस रंगों के महोत्सव का आनंद उठाएँ.


Holi Festival Speech for Students in Hindi - होली के त्योहार पर छात्रों के लिए भाषण

माननीय मुख्य अतिथि एवं मेरे प्रिय मित्रों सबसे पहले आप सभी को मेरा सादर प्रणाम एवं सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाएँ. मेरा नाम ___ है. आज मै आप लोगों के समक्ष होली के इस सुअवसर पर अपने विचार प्रस्तुत करने के लिए उपस्थित हुआ हूँ. जिसे रंगों का त्योहार या रंगोत्सव भी कहते है.

होली हमारे भारत का सबसे पवित्र और महत्वपूर्ण त्योहार है जो संपूर्ण देश में उत्साह और उल्लास के साथ मनाया जाता है. इस दिन बहार गए लोग वापस घर लौट आते है और अपने परिवार वालों या रिश्तेदारों के साथ बड़े ही हर्ष के साथ होली मनाते है. दोस्तों इस बार की होली हर बार की होली से थोड़ी अलग होगी क्योंकि कोरोना का प्रकोप अभी भी सक्रिय है ऐसे में हमें और भी अधिक सावधानियाँ बरतने की जरूरत है. 

वैसे तो होली हर साल आती है लेकिन अगर हम थोड़े सावधान रहेंगे तो हर साल की तरह ही होली अगले साल भी मना पायेंगे. इस बार हमें कोरोना के समस्त नियमों का पालन करते हुए ही होली मनानी होगी अर्थात अपने घर परिवार वालों के साथ ही होली मनानी होगी. अनावश्यक रूप से बहार न निकले खासकर बच्चों को घर पर ही रहने के लिए कहें यदि आप घर पर ही होली खेलेंगे तो बच्चे भी आपकी बात मानेंग. 

इससे हम और हमारा परिवार वाले सुरक्षित होकर होली मना पायेंगे साथ ही दूसरों को भी प्रोत्साहित कर पायेंगे दोस्तों मेरी आपसे विनती है कि आप खुब होली खेलिए पर अपनी तथा अपने परिवार की सुरक्षा सदैव सर्वोपरि रखीए. होली हमारे पूर्वजों की आन है यह हमें अच्छाई के मार्ग पर चलने की प्रेरणा देता है और रंगों के साथ हमारी झोली में खुशियाँ ही खुशियाँ भर देती है इसलिए हमें इसे मनाने में कोई भी कसर अधूरी नहीं छोड़नी चाहिए इसी के साथ मैं अपनी विचारों पर विराम देता हूँ

हैपी होली आप सभी को होली मुबारक हो.


Holi Speech 10 Lines in Hindi - होली पर 10 लाइनों का भाषण हिंदी में

1. हमारे मुख्य अतिथि एवं मेरे प्यारे दोस्तों आप सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाएँ और बधाई.

2. होली भारत का सबसे लोकप्रिय और पसंदीदा त्योहार है

3. यह पर्व हर साल फाल्गुन माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है.

4. इसे रंगों का त्योहार, रंगोत्सव, रंग पर्व और वसंत पर्व आदि नामों से जाना जाता है.

5. यह हमारी धार्मिक परंपराओं से जुड़ा हुआ सबसे प्राचीन पर्व है.

6. यह बुराई को समाप्त कर अच्छाई की जीत दिलाने वाला मुख्य उत्सव है. 

7. यह एक हिन्दुओं द्वारा मनाया जाने वाला सबसे रंगीन त्योहार है.

8. इस दिन लोग रंगों को महत्व देते हुए इसका आनंद लेते है. 

9. इस त्योहार को मनाने के पिछे हिरण्यकश्यप और प्रहलाद की पटकथा है

10. वास्तव में यह एक हस-मुँख और उत्साह का त्योहार है.


Holi Speech FAQ in Hindi

Q.1 होली पर भाषण कैसे दे?

Ans. सबसे पहले आपको भाषण के नोट्स बना लेने है और इन्हें भाषण के दौरान अपने साथ रखना है. थोड़ा बहुत याद भी कर लेने है. बच आपको इन पाॅइंटो को ध्यान में रखना है. भाषण शुरू करने से पहले आपको एक लम्बी सांस अंदर लेनी है और फिर उसे उसी स्थिति में बहार निकालना है फिर पूरे उत्साह और आत्मविश्वास से वाक्यो को दोहराना है. यदि आप ऐसा करने में सक्षम ना हो तो आप कोपी में लिखकर होली पर भाषण दे सकते है.

Q.2 होली 2022 में कब है?

Ans. 2022 में होली 18 मार्च को है. 17 मार्च को होलिका दहन होगा, हर साल की तरह इस भी होली उत्साह और उमंग के साथ मनाई जाएगी क्योंकि पिछले की तुलना इस साल कोरोना का प्रकोप थोड़ा कम है हमें आशा है आप 2022 में होली अच्छे से मनाएँगे.

Q.3 होली में खास क्या है?

Ans. होली वसंत ऋतु में मनाया जाने वाला प्रमुख भारतीय त्योहार है. इसी दिन से देश में त्योहारों की शुरुआत होती है. इस त्योहार को नववर्ष का प्रारंभ कर्ता माना जाता है. यह त्योहार केवल हिन्दू ही नहीं बल्कि मुसलमान सहित पूरे देश में मनाया जाता है. शास्त्रीय और संगीत में होली का गहरा संबंध है. इसलिए इस उत्सव को भारत का खास पर्व कहा जाता है.


मैं उम्मीद करता हूँ की आपको यह लेख होली पर भाषण हिंदी में 2022 Holi Festival Speech in Hindi पसंद आया होगा यदि आपको यह लेख पसंद आए तो अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें क्योंकि हम आपके लिए ऐसी ही भाषण और निबंध संबंधित Information जानकारी लाते रहते है.


ये भी पढ़े:

  1. Happy New Year Speech in Hindi - नए साल पर भाषण
  2. बहन के लिए इमोशनल वेडिंग स्पीच - Emotional wedding speech and wishes for sister in Hindi
  3. वैलेंटाइन डे पर भाषण - Valentine's Day Speech in Hindi


Dramatalk

Hello! I am the founder of this blog and a professional blogger. Here I regularly share helpful and useful information for my readers.

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने