Essay on Sunita Williams in hindi - सुनीता विलियम्स पर निबंध हिन्दी

Welcome friends स्वागत है आपका आज की इस निबंध की टिप्पणी में friends आज हम यहाँ "सुनीता विलियम्स पर निबंध हिन्दी" की टिप्पणी जानने वाले हैं.

आपको बता दें कि पहली भारतीय महिला अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला थी. उनकी नासा अंतरिक्ष यात्रा के बाद दूसरे नंबर पर सुनीता विलियम्स अंतरिक्ष यात्री बनी थी.

Sunita Williams को अंतरिक्ष यात्री बनने के बाद उन्हें "अंतरिक्ष की परी" कहा गया था. उन्हें खासकर "अमेरिकी नासा अंतरिक्ष एजेंसी" में जाना जाता है. वह दूसरी भारतीय महिला अंतरिक्ष यात्री है.

तो चलीए आगे बढ़ते हैं और Sunita Williams Essay in hindi सुनीता विलियम्स पर निबंध शुरू करते है और जानते हैं सुनीता विलियम्स कौन थी, उनका जन्म कब, कहाँ हुआ था.

Essay on Sunita Williams in hindi
Essay on Sunita Williams in hindi

सुनीता विलियम्स पर निबंध हिन्दी | Essay on Sunita Williams in hindi

Sunita Williams संयुक्त राज्य अमेरिका की नासा अंतरिक्ष यात्री है. वह खासकर भारत में रहने वाली है. उनका चयन सन 1998 में अंतरिक्ष एजेंसी 'नासा' अमेरिका में हुआ था. वह दुसरी महिला अंतरिक्ष यात्री रही हुई है जिसमें उन्होंने अंतरिक्ष में 192 दिनों तक रहने का Record बनाया है. 


Sunita Williams प्रारंभिक जीवन (biography, Family and Early life)

सुनीता विलियम्स का पूरा नाम "सुनीता लिन पांड्या विलियम्स" है वह अहमदाबाद, गुजरात, भारत की पांड्या Family से बिलोंग करती है. Sunita Williams का जन्म 19 सितम्बर 1965 को ओहियो, संयुक्त राज्य अमेरिका में हुआ था. उनके पिता (Father) का नाम डॉ॰ दीपक एन. पांड्या था और Mother (माता) का नाम बॉनी जालोकर पांड्या था. जो अमेरिका, स्लोवेनिया की है. सुनीता विलियम्स के दो भाई-बहन थे. भाई का नाम जय थॉमस पांड्या और बहन का नाम डायना एन पांड्या है सुनिता विलियम्स उन दोनों से छोटी थी.

सुनिता विलियम्स के पिता डॉ॰ दीपक एन. पांड्या एक डाॅक्टर और तंत्रिका वैज्ञानिकी Association के M.D. थे. दीपक एन. पांड्या अहमदाबाद, झूलासन में जन्मे थे. जब वह 5 वर्ष के थे तब ही वह अहमदाबाद से अमेरिका, बोस्टन चले गए थे. वही पर उन्होंने अपनी पढ़ाई और शादी करी थी. इसलिए सुनिता विलियम्स को विश्व में भारतीय अंतरिक्ष यात्री माना जाता है. बाकी उनका जन्म तो अमेरिका में हुआ था.

सुनिता विलियम्स की प्रारंभिक शिक्षा "नीधम हाई स्कूल मैसाचुसेट्स" मे हुई थी. उन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई सन 1983 में बैचलर ऑफ साइंस (BSC) में भौतिक विज्ञान से करी थी. उसके बाद उन्होंने 1987 में "संयुक्त राज्य अमेरिका नौसेना अकादमी" में इंजीनियरिंग से स्नातकोत्तर की डिग्री हासिल करी थी. स्नातकोत्तर की डिग्री प्राप्त करने के बाद उन्होंने "फ्लोरिडा प्रौद्योगिकी संस्थान" से उपाधि प्राप्त की थी.

ये भी पढ़े: Essay on Albert Einstein in Hindi - अल्बर्ट आइंस्टीन पर निबन्ध


सुनीता विलियम्स का विवाह और Personal life

सुनीता विलियम्स के पति का नाम माइकल जे विलियम्स है. माइकल जे विलियम्स एक टेक्सास में संघीय पुलिस अधिकारी थे. सुनीता विलियम्स और माइकल जे दोनों शादी से पहले ही एक दूसरे को जानते थे. क्योंकि वे टेक्सास में एक साथ रहते थे और उन्होंने अपनी शुरुआती दिनों में वही पर एक साथ हेलिकॉप्टर उड़ाया था. उन दिनों उनके पास एक कुत्ता (Dog) था. जिसे 2010 में  "डॉग व्हिस्परर" Shows मे दिखाया गया था.


सुनीता विलियम्स एक अंतरिक्ष यात्री और करियर

1998 में सुनीता विलियम्स ने अपनी पहली अंतरिक्ष यात्रा "जॉनसन स्पेस सेंटर" में करी थी. उसके बाद 2006 में सुनीता विलियम्स को स्पेस शटल एसटीएस-116 में अंतर्राष्ट्रीय स्टेशन पर भेजा गया था. 9 फरवरी, 2007 सुनीता विलियम्स ने माइकल लोपेज़-एलेग्रिया के साथ अंतरिक्ष के तीन स्पेसवॉक पूरे किए थे जिसमें उन्होंने एक महत्वपूर्ण मिशन के तौर पर काम किया था. 

उसके बाद वह 2007 एडवर्ड्स एयर फ़ोर्स बेस पर 3:49 बजे निकली थी और लगभग 192 दिन तक अंतरिक्ष में रूखी थी. सुनीता विलियम्स ने 2008 में बोस्टन मैराथन में भाग लिया था. उसके बाद उन्होंने 2012 में Baikonur Cosmodrome अंतरिक्ष में कार्य किया था. 2012 को वह चौकी पर चार महीने रहने के लिए आईएसएस के साथ अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर कमांडर बनीं थी. 

वर्ष 2015 में सुनीता विलियम्स को यूएस कमर्शियल स्पेसफ्लाइट्स की यात्रियों में से पहला स्थान प्राप्त हुआ था. अगस्त 2012 में विलियम्स ने 50 घंटे तक स्पेसवॉक किया था. जिसमें उन्हें अनुभवी यात्रियों में से 5वां स्थान पर रखा गया था. 2018 में उन्हें बोइंग सीएसटी -100 स्टारलाइनर के लिए पहला अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन मिशन दिया गया था.


सुनीता विलियम्स का भारत में आने का दौर

सुनीता विलियम्स ने भारत दौर वर्ष 2007 में किया था जिसमें उन्होंने अपना पहला दौर अपने दादा के गांव अहमदाबाद, झूलासन में किया था. भारत में उन्हें सरदार वल्लभभाई गुजरात सोसायटी द्वारा सम्मानित किया गया था. सुनीता विलियम्स ही एक ऐसी सम्मानित व्यक्ति थी जो भारत की तो थी लेकिन उनके पास भारत की नागरिक नही थी. क्योंकि वह अमेरिका में पैदा और उनके अमेरिका की नागरिकता थी.


Sunita Williams का सम्मान और पुरस्कार

  1. 2008 में भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण Award
  2. 2011 में पदक रूस सरकार द्वारा अंतरिक्ष अन्वेषण में योग्यता के लिए Award
  3. स्लोवेनिया सरकार द्वारा 2013 में गोल्डन ऑर्डर फॉर मेरिट्स Award 
  4. 2013 में मानद डॉक्टरेट, गुजरात प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय द्वारा Award
  5. गोल्डन ऑर्डर फॉर मेरिट्स स्लोवेनिया सरकार द्वारा 2013
  6. नासा स्पेसफ्लाइट मेडल Award 
  7. नौसेना प्रशस्ति पदक Award 
  8. मानवीय सेवा पदक Award
  9. नौसेना और समुद्री कोर उपलब्धि पदक Award


उपसंहार

इस प्रकार Sunita Williams कल्पना चावला के बाद दूसरी महिला अंतरिक्ष यात्री बनी थी. उन्होंने हमारे विश्व और देश के जो महान काम किया है उसे हम कभी भी भूल नहीं सकते है. Sunita Williams ने अपने जीवन में कई पुरस्कार और सम्मान जीते और हमारे देश का नाम गौरान्वित किया है. वही उन्होंने ऐसे भी रिकॉर्ड बनाए है जिसकी हम कभी तुलना भी नहीं कर सकते है. आज की महिलाओं के लिए यह कितनी गौरव की बात है कि महिलाएँ भी इस लेवल तक जा सकती है.


Sunita Williams Essay FAQ in hindi

1. सुनीता विलियम्स का जन्म कब और कहां हुआ था?

19 सितम्बर 1965 को ओहियो, अमेरिका में

2. सुनीता विलियम्स के भारत आने का कारण था?

उनके पिता भारतीय थे इसलिए

3. सुनीता विलियम्स अंतरिक्ष के लिए उड़ान कब भरी थी?

15 जुलाई को

4. सुनीता विलियम्स के पिता क्या थे?

डॉक्टर और तांत्रिका वैज्ञानिक 

5. सुनीता विलियम्स की माता का नाम क्या था?

बॉनी जालोकर पांड्या

6. सुनीता विलियम्स पृथ्वी से कितने किलोमीटर दूर स्पेसशिप में गई थी?

लगभग 360 किलोमीटर

7. सुनीता विलियम्स की दोस्त का क्या नाम था?

उनकी साथी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला

तो friends यह था आज का निबंध Essay on Sunita Williams in hindi सुनीता विलियम्स पर निबंध हिन्दी जानकारी कैसी लगी हमें कमेट में जरूर बताएँ.

Essay on Sunita Williams in hindi

Read More 

1. छत्रपति शिवाजी महाराज निबंध Chhatrapati Shivaji Maharaj Essay in hindi

2. अवध ओझा सर जीवनी Awadh Ojha Sir biography in Hindi

3. नीता शेट्टी की जीवनी - Neetha Shetty biography in Hindi

Dramatalk

Hello! I am the founder of this blog and a professional blogger. Here I regularly share helpful and useful information for my readers.

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने